145 जगहों तक वैक्सीन पहुंचाने का काम शुरू, ट्रम्प ने कहा- अभी व्हाइट हाउस स्टाफ को करना होगा इंतजार

अमेरिका में आज से वैक्सीनेशन शुरू होगा। इसकी तैयारियां की जा रही है। देश के कई राज्यों में 145 जगहों पर वैक्सीन पहुंचाने का काम शुरू हो गया है। व्हाइट हाउस के जरूरी काम करने वाले स्टाफ और ऑफिसर्स को वैक्सीन लगाने में फिलहाल देरी होगी। इससे पहले यह खबर आई थी कि 10 दिन में इन्हें वैक्सीन लगा दी जाएगी। हालांकि, ट्रम्प ने इसके कुछ ही देर बाद सोशल मीडिया पर लिखा- व्हाइट हाउस के स्टाफ को वैक्सीनेशन प्रोग्राम के तहत बाद में टीका लगाया जाएगा। बहुत जरूरी होने पर ही उन्हें जल्द वैक्सीन लगाई जा सकती है।

अमेरिकी मीडिया के मुताबिक, राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प और उप राष्ट्रपति माइक पेंस को भी वैक्सीन ऑफर होगी। हालांकि, अभी यह स्पष्ट नहीं हो सका है कि ट्रम्प तुरंत यह वैक्सीन लगवाएंगे या नहीं, क्योंकि वे पहले एक बार संक्रमित हो चुके हैं। प्रेसिडेंट इलेक्ट जो बाइडेन और वाइस प्रेसिडेंट इलेक्ट कमला हैरिस को भी टीका लगाने की योजना है।

कई चरणों में होगा वैक्सीनेशन

अमेरिका में कई चरणों में वैक्सीनेशन होगा। पहले चरण में फ्रंटलाइन हेल्थ वर्कर्स और केयर होम में रह रहे बुजुर्ग लोगों को टीका लगाया जाएगा। कोरोना वैक्सीन के डिस्ट्रीब्यूशन की जिम्मेदारी जनरल गुस्ताव पेरना देख रहे हैं। पेरना के मुताबिक, इस हफ्ते के अंत तक सभी राज्यों में वैक्सीन के करीब 30 लाख डोज पहुंच जाएंगे। ट्रकों और जहाजों के जरिए वैक्सीन डोज पहुंचाई जा रही है। सरकार ने बीते हफ्ते ही फाइजर और बायोएनटेक को इमरजेंसी इस्तेमाल की मंजूरी दी है। देश के फेडरल ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन (FDA) और डिजीस कंट्रोल सेंटर (सीडीसी) ने इसे सुरक्षित बताया है।

पांच लोगों के वैक्सीनेशन के साथ शुरू होगा प्रोग्राम

डिपार्टमेंट ऑफ हेल्थ एंड ह्यूमन सर्विस पांच लोगों को वैक्सीन लगाकर वैक्सीनेशन प्रोग्राम की शुरुआत करेगा। इसके किक ऑफ इवेंट नाम दिया गया है। इन पांच लोगों को वॉशिंगटन डीसी स्थित जॉर्ज वाशिंगटन यूनिवर्सिटी हॉस्पीटल में टीका लगाया जाएगा। यह सभी फ्रंटलाइन हेल्थ वर्कर्स हैं। इसके बाद हेल्थ डिपार्टमेंट के सीनियर ऑफिसर्स और डॉक्टर्स को वैक्सीन लगाई जाएगी। आम अमेरिकियों को वैक्सीन लगाने की शुरूआत इस हफ्ते के बाद ही हो सकेगी।

अमेरिका ने आधी आबादी के लिए वैक्सीन का इंतजाम किया

अमेरिका ने मॉडर्ना की वैक्सीन के 10 करोड़ एक्स्ट्रा डोज का ऑर्डर दिया है। इससे पहले जुलाई में अमेरिका ने मॉडर्ना से एक लाख डोज खरीदे थे। उसने कुल 30 करोड़ एक्स्ट्रा डोज खरीदने का टारगेट रखा है। हर मरीज को दो डोज की जरूरत पड़ती है। इस लिहाज से 15 करोड़ लोगों को वैक्सीन दी जा सकेगी।अमेरिका की आबादी करीब 33 करोड़ है। इसका मतलब है कि उसने आधी आबादी के लिए वैक्सीन का इंतजाम कर लिया है।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
अमेरिका के मिशिगन स्थित फाइजर इंक फैक्ट्री में सोमवार को कोरोना वैक्सीन की पैकिंग करते कर्मचारी। इसे गाड़ियों और जहाजों से अमेरिका के सभी राज्यों में पहुंचाया जा रहा है।


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/2K1dWee

Comments

Popular posts from this blog

चीन ने कहा- हमारा समुद्री अधिकार नियम के मुताबिक, जवाब में ऑस्ट्रेलिया बोला- उम्मीद है आप 2016 का फैसला मानेंगे

अफगानिस्तान सीमा को खोलने की मांग कर रहे थे प्रदर्शनकारी, पुलिस ने फायरिंग की; 3 की मौत, 30 घायल