एपल के आलोचक ब्लॉग पर एपल ही बना रही थी वेब सीरीज, कुक की नाराजगी से काम रुका

किसी के खिलाफ बुरा बोलने या लिखने से पहले यह विचार जरूर कर लेना चाहिए कि भविष्य में अंजाम आपके खिलाफ भी जा सकता है। यह बात एक जमाने में काफी लोकप्रिय रहे अमेरिकी ब्लॉग गावकर पर सौ फीसदी लागू होती है। टेक कंपनी एपल गावकर के शुरू होने, लोकप्रिय बनने और बंद होने की कहानी को वेबसीरीज के रूप में पेश करने की योजना पर काम कर रही थी। तभी यह बात एपल के सीईओ टिम कुक को पता चली। कुक ने इस सीरीज पर नाराजगी जता दी और एपल ने इस पर काम बंद कर दिया।

वास्तव में गावकर ने एक जमाने में एपल और टिक कुक के खिलाफ काफी कुछ लिखा था। गावकर ने ही सबसे पहले यह दावा किया था कि टिम कुक समलैंगिक हैं। इसके अलावा गावकर ने एपल के आईफोन-4 फोन का प्रोटोटाइप फोन की लॉन्चिंग से काफी पहले लीक कर दिया था। गावकर के दो पूर्व दिग्गजों ने इस वेब सीरीज का आइडिया एपल टीवी प्लस को दिया था।

इनमें से एक कोर्ड जॉनसन और दूसरे मैक्स रीड थे। जॉनसन ने टीवी लेखन में करियर बनाने के लिए गावकर छोड़ दी थी। वहीं, रीड गावकर के पूर्व एडिटर इन चीफ थे। इनके अलावा एपल ने गावकर के दो और पूर्व संपादकों को प्रोजेक्ट में शामिल किया था। लेकिन, जैसे ही यह बात सीईओ टिम कुक तक पहुंची सब कुछ धरा का धरा रह गया।

मुकदमेबाजी के कारण चार साल पहले बंद हुआ था गावकर ब्लॉग

गावकर ब्लॉग अपने जमाने में दिग्गज कंपनियों और मशहूर लोगों के ऊपर लिखे आलेखों और स्कूप के कारण लोकप्रिय हुआ था। इसमें उस तरह की बातें भी लिखी होती थी जिसे लिखने से मुख्य धारा का मीडिया बचता था। इस वजह से गावकर पर कई मुकदमे हुए और आखिरकार 2016 में ऐसे ही एक केस के कारण इसे बंद भी होना पड़ा था।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
Apple was creating a web series on Apple's critic blog, Cook's displeasure stopped


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/34dsfmI

Comments

Popular posts from this blog

चीन ने कहा- हमारा समुद्री अधिकार नियम के मुताबिक, जवाब में ऑस्ट्रेलिया बोला- उम्मीद है आप 2016 का फैसला मानेंगे

अफगानिस्तान सीमा को खोलने की मांग कर रहे थे प्रदर्शनकारी, पुलिस ने फायरिंग की; 3 की मौत, 30 घायल

रूलिंग पार्टी की बैठक में नहीं पहुंचे ओली, भारत से बिगड़ते रिश्ते के बीच इस्तीफे से बचने की कोशिश