ब्रिटेन में आज से शुरू होगा वैक्सीनेशन, फ्रांस का लॉकडाउन हटाने से इनकार

दुनिया में कोरोना मरीजों का आंकड़ा 6.79 करोड़ के पार हो गया। 4 करोड़ 69 लाख से ज्यादा लोग ठीक हो चुके हैं। अब तक 15 लाख 49 हजार से ज्यादा लोग जान गंवा चुके हैं। ये आंकड़े https://ift.tt/2VnYLis के मुताबिक हैं। ब्रिटेन आज से वैक्सीनेशन शुरू करने जा रहा है। करीब एक हफ्ते पहले फाइजर-बायोएनटेक वैक्सीन को ब्रिटिश रेग्युलेटर ने मंजूरी दी थी। दूसरी तरफ, फ्रांस सरकार ने साफ कर दिया है कि वो फिलहाल, लॉकडाउन हटाने पर विचार नहीं करेगी, क्योंकि देश में हालात अब भी अच्छे नहीं हैं।

सेफ है वैक्सीन
‘द गार्डियन’ के मुताबिक, इंग्लैंड के अलावा वेल्स और स्कॉटलैंड में वैक्सीनेशन शुरू होगा। नॉदर्न आयरलैंड ने कहा है कि वो जल्द ही वैक्सीनेशन शुरू करेगा। हालांकि, उसने इसके लिए तारीख नहीं बताई। रिपोर्ट के मुताबिक, नेशनल हेल्थ सर्विस के लिए सबसे बड़ी चुनौती इस वैक्सीन का स्टोरेज है। एनएचएच के सर्विस प्रोवाइडर चीफ सेफ्रोन कोर्डरी के मुताबिक, पहले 50 हॉस्पिटल्स को चुना ही इसलिए गया, ताकि स्टोरेज कंडीशन्स को भी सही तरीके से परखा जा सके। 8 लाख वैक्सीन की पहली खेप बेल्जियम से ब्रिटेन पहुंच चुकी है।

ब्रिटेन में वैक्सीनेशन को जल्द मंजूरी पर सवाल भी उठे थे। लेकिन, यहां की सरकार और रेग्युलेटर ने शंकाओं का खारिज कर दिया। कोर्डरे ने कहा- यह बहुत बड़ी सफलता है। इस पर सवाल उठाना ठीक नहीं है। हम ये जरूर मानते हैं कि इसको बहुत जल्द अप्रूवल मिल गया। उन्होंने कहा- बेफिक्र रहिए। यह वैक्सीन पूरी तरह सेफ है। हम वैक्सीनेट किए गए लोगों की मॉनिटरिंग भी करेंगे।

वैक्सीनेशन मेंडेटरी नहीं हो
WHO ने कहा है कि कोविड-19 वैक्सीन को अनिवार्य यानी मेंडेटरी नहीं किया जाना चाहिए। संगठन ने कहा- बेहतर ये होगा कि इसका इस्तेमाल मेरिट के आधार पर किया जाए। अनिवार्य करने से कोई फायदा नहीं होगा। जिनको जरूरत है, उन्हें जरूर दी जानी चाहिए। अब हमें यह देखना होगा कि देश इस वैक्सीन का इस्तेमाल किस तरह करते हैं। दूसरी तरफ, यूएन की हेल्थ एजेंसी ने इस मेंडेटरी करने को कहा है।

फ्रांस लॉकडाउन खत्म नहीं करेगा
कोरोना की दूसरी लहर का सामना कर रहे फ्रांस ने साफ कर दिया है कि 15 दिसंबर को लॉकडाउन हटाए जाने की संभावना काफी कम है। फ्रेंच हेल्थ मिनिस्ट्री के अफसर जेरोम सेलोमन ने कहा- हमने बहुत मुश्किल वक्त का सामना किया है। अब हालात काबू में आ रहे हैं तो हम लॉकडाउन हटाने का रिस्क नहीं ले सकते। फ्रांस में 6 हफ्ते का लॉकडाउन 15 दिसंबर को खत्म हो रहा है। चार हफ्ते पहले तक हर दिन करीब 50 हजार मरीज मिल रहे थे। अब यह संख्या 11 हजार तक पहुंची है। इसलिए सरकार का मानना है कि इसे जल्द हटाने से हालात फिर खराब हो सकते हैं।

पेरिस के एक कोरोना टेस्टिंग सेंटर में टेस्ट कराते लोग। फ्रांस सरकार ने साफ कर दिया है कि वो 15 दिसंबर को लॉकडाउन नहीं हटाएगी। हालांकि, यह कितना और बढ़ाया जाएगा, इस बारे में फिलहाल जानकारी नहीं दी गई है।

मैक्सिको में हालात बिगड़े
मैक्सिको में हेल्थ मिनिस्ट्री एक बार फिर अलर्ट पर है। इस छोटे से देश में सोमवार को 6399 मामले सामने आए। इसके साथ ही इसी दौरान 357 लोगों की मौत हो गई। अब सरकार ने कहा है कि वो क्रिसमस पर किसी तरह की राहत देने नहीं जा रही। हेल्थ मिनिस्ट्री ने कहा- हमारे देश में करीब 12 लाख केस सामने आ चुके हैं। हम अपने एक लाख से ज्यादा नागरिकों को गंवा चुके हैं। हालात ऐसे नहीं हैं कि कोई रिस्क लिया जाए। लिहाजा, प्रतिबंध कम किए जाने की उम्मीद न करें।

कोरोना प्रभावित टॉप-10 देशों में हालात

देश

संक्रमित मौतें ठीक हुए
अमेरिका 1,53,69,046 2,90,443 89,82,246
भारत 97,03,908 1,40,994 91,77,645
ब्राजील 66,28,065 1,77,388 58,01,067
रूस 24,88,912 43,597 19,56,588
फ्रांस 22,95,908 55,521 1,70,285
इटली 17,42,557 60,606 9,33,132
यूके 17,37,960 61,434 उपलब्ध नहीं
स्पेन 17,15,700 46,646 उपलब्ध नहीं
अर्जेंटीना 14,66,309 39,888 13,00,696
कोलंबिया 13,77,100 37,995 12,67,595

(आंकड़े https://ift.tt/2VnYLis के मुताबिक हैं)



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
Coronavirus Pandemic Country Wise Cases LIVE Update; USA Pakistan China Brazil Russia France Spain Recovery Rate Covid 19 Cases


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/37ISmCX

Comments

Popular posts from this blog

चीन ने कहा- हमारा समुद्री अधिकार नियम के मुताबिक, जवाब में ऑस्ट्रेलिया बोला- उम्मीद है आप 2016 का फैसला मानेंगे

अफगानिस्तान सीमा को खोलने की मांग कर रहे थे प्रदर्शनकारी, पुलिस ने फायरिंग की; 3 की मौत, 30 घायल