मैक्सिको में फाइजर वैक्सीन के इमरजेंसी इस्तेमाल को मंजूरी, अमेरिका में अब मेकशिफ्ट हॉस्पिटल

दुनिया में कोरोना मरीजों का आंकड़ा 7.14 करोड़ के ज्यादा हो गया। 4 करोड़ 96 लाख से ज्यादा लोग ठीक हो चुके हैं। अब तक 16 लाख से ज्यादा लोग जान गंवा चुके हैं। ये आंकड़े https://ift.tt/2VnYLis के मुताबिक हैं। मैक्सिको ने फाइजर-बायोएनटेक कंपनी की वैक्सीन के इमरजेंसी इस्तेमाल को मंजूरी दे दी है। ब्रिटेन और कनाडा पहले ही यह कदम उठा चुके हैं। अमेरिका में अस्पतालों में अब जगह कम पड़ने लगी है। हालात यह हैं कि लास एंजिलिस जैसे शहर में टेंट में मेकशिफ्ट हॉस्पिटल बनाए गए हैं।

अब मैक्सिको में भी वैक्सीन
मैक्सिको में फाइजर-बायोएनटेक कंपनी की कोरोना वैक्सीन को मंजूरी दे दी गई है। हेल्थ मिनिस्ट्री ने शुक्रवार रात जारी बयान में कहा- हमारे हेल्थ रेग्युलेटर ने कई दिनों के परीक्षण के बाद यह तय किया है कि इस वैक्सीन का इस्तेमाल इमरजेंसी में किया जा सकता है। लिहाजा, फिलहाल हम इसका इस्तेमाल शुरू कर रहे हैं। बड़े पैमाने पर वैक्सीनेशन कब शुरू होगा, इस बारे में जानकारी जल्द दी जाएगी। कुछ जरूरी कदम और उठाए जाने हैं। इसके बाद ही इस बारे में कोई अंतिम निर्णय किया जाएगा।

मैक्सिको सिटी में एक हॉस्पिटल में काम करता हेल्थ वर्कर। यहां सरकार ने फाइजर वैक्सीन के इमरजेंसी इस्तेमाल को मंजूरी दे दी है।

WHO की वॉर्निंग
अमेरिका के बाद अब WHO ने भी क्रिसमस पार्टीज और सेलिब्रेशन को लेकर चेतावनी जारी की है। संगठन ने शुक्रवार को जारी बयान में कहा- अगर क्रिसमस के दौरान हमने लापरवाही बरती तो यह तय मानिए कि हम मुश्किल में पड़ सकते हैं और खुशी के बदले हमें दुख का सामना करना पड़ सकता है। संगठन के प्रमुख एडेनहोम घेब्रिसियस ने कहा- हमें यह याद रखना चाहिए कि कोरोना से मरने वालों का आंकड़ा तेजी से बढ़ रहा है। इसलिए यह जरूरी है कि फेस्टिव सीजन में हम बेहद सावधान रहें।

ब्राजील में रिइन्फेक्शन वाले केसों की जांच होगी
ब्राजील में 58 ऐसे संदिग्ध मरीज मिले हैं जिन्हें कथित तौर पर दूसरी बार संक्रमण हुआ। अब सरकार ने कहा है कि यह हालात क्यों बने, इसकी जांच की जाएगी। हेल्थ मिनिस्ट्री ने एक बयान में कहा- अब तक यह साफ नहीं हो सका कि वास्तव में ये लोग दूसरी बार संक्रमित हुए या फिर इनका संक्रमण ठीक ही नहीं हुआ था। दो मामलों पर खासतौर पर नजर है। इसमें एक 37 साल का पुरुष और इतनी ही उम्र की एक महिला है। यह नटाल शहर के रहने वाले हैं। इन्हें पहली बार जून और फिर अक्टूबर में पॉजिटिव पाया गया। दोनों संक्रमणों के बीच 116 दिन का अंतर था। अब इन मामलों की जांच की जा रही है।

जर्मनी में सख्ती की तैयारी
फ्रांस ने 6 हफ्ते के सख्त लॉकडाउन के बाद हालात संभाले और दो हफ्ते पहले जहां हर दिन 50 हजार से ज्यादा मामले सामने आ रहे थे, इन्हें 10 या 11 हजार तक सीमित कर लिया। लोगों ने सरकार का सहयोग भी किया। अब जर्मनी की एंजेला मर्केल सरकार बर्लिन से पाबंदियों की शुरुआत करने जा रही है। यहां सोमवार से सभी दुकानें यानी बाजार बंद किए जा सकते हैं। स्कूलों की छुट्टियां बढ़ाई जा सकती हैं। मेयर माइकल मुलर ने इसकी पुष्टि की है। माना जा रहा है कि शुरुआत में प्रतिबंध दो हफ्ते के लिए लगाए जाएंगे। सरकार लॉकडाउन शब्द से परहेज कर रही है।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
अमेरिका के लास एंजिलिस शहर के एक हॉस्पिटल में संक्रमितों के लिए बेड कम पड़ गए। अब यहां एक टेंट लगाकर मेकशिफ्ट हॉस्पिटल तैयार किया गया है। यहीं संक्रमितों की जांच की जा रही है और इसके दूसरे हिस्से में उनका इलाज किया जा रहा है।


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/2LxrOgR

Comments

Popular posts from this blog

चीन ने कहा- हमारा समुद्री अधिकार नियम के मुताबिक, जवाब में ऑस्ट्रेलिया बोला- उम्मीद है आप 2016 का फैसला मानेंगे

अफगानिस्तान सीमा को खोलने की मांग कर रहे थे प्रदर्शनकारी, पुलिस ने फायरिंग की; 3 की मौत, 30 घायल