साउथ इंग्लैंड में फैल रहा कोरोना का नया स्ट्रेन, लंदन आने-जाने पर लग सकता है बैन; लॉकडाउन पर भी विचार

फाइजर की वैक्सीन को इमरजेंसी यूज की इजाजत देने के बाद ब्रिटेन जल्द ही कोरोना महामारी पर काबू पाने की उम्मीद कर रहा था। लेकिन, कोरोनावायरस का नया स्ट्रेन सामने आने से यहां हड़कंप की स्थिति है। प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने मंत्रियों की आपातकालीन बैठक बुलाकर स्थिति पर चर्चा की है। वायरस का यह रहस्यमयी नया स्ट्रेन लंदन और इंग्लैंड के दक्षिणी हिस्से में ज्यादा मिल रहा है।

ब्रिटिश मीडिया की रिपोर्ट्स के मुताबिक, प्रधानमंत्री जॉनसन लंदन से ट्रैवल बैन लगाने पर विचार कर रहे हैं। इस पर अभी आखिरी फैसला नहीं लिया गया है। कोरोनावायरस के इस स्ट्रेन को VUI-202012/01 पहचान दी गई है। माना जा रहा है कि यह स्ट्रेन पहले की तुलना में ज्यादा तेजी से महामारी फैला रहा है। केंट काउंटी के अस्पतालों में कोरोना संक्रमितों की संख्या काफी बढ़ गई है। लंदन में भी नए केस तेजी से बढ़े हैं।

दोबारा लग सकता है लॉकडाउन

ब्रिटेन में 23 से 27 दिसंबर तक लोगों को क्रिसमस बबल बनाने की इजाजत मिलने वाली थी। हर बबल में तीन परिवार मिलकर सेलिब्रेट कर सकते थे। लेकिन, नया स्ट्रेन सामने आने के बाद फिर से देशभर में लॉकडाउन की चर्चा बढ़ गई है। इस पर आखिरी फैसला पीएम जॉनसन को लेना है।

क्रिसमस और नए साल पर रेड जोन में रहेगा इटली

कोरोना की दूसरी लहर का मुकाबला कर रहे इटली ने क्रिसमस और नए साल पर पाबंदियां सख्त करने का फैसला किया है। इसके लिए तीन अलग-अलग चरणों में लॉकडाउन लगाया जाएगा। पहले चरण का लॉकडाउन 24 से लेकर 27 दिसंबर तक रहेगा।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
ब्रिटेन में कोरोनावायरस के नए स्ट्रेन के सामने आने के बाद एक बार पाबंदियां लगाई जा सकती हैं। पीएम बोरिस जॉनसन जल्द इस बारे में फैसला ले सकते हैं। -फाइल फोटो।


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/3mDsFcq

Comments

Popular posts from this blog

चीन ने कहा- हमारा समुद्री अधिकार नियम के मुताबिक, जवाब में ऑस्ट्रेलिया बोला- उम्मीद है आप 2016 का फैसला मानेंगे

अफगानिस्तान सीमा को खोलने की मांग कर रहे थे प्रदर्शनकारी, पुलिस ने फायरिंग की; 3 की मौत, 30 घायल

रूलिंग पार्टी की बैठक में नहीं पहुंचे ओली, भारत से बिगड़ते रिश्ते के बीच इस्तीफे से बचने की कोशिश