ब्रिटिश वैक्सीन एक्सपर्ट बोले- UK और साउथ अफ्रीका में पाया गया नया स्ट्रेन वॉर्निंग, वैज्ञानिक तैयार रहें

दुनिया में कोरोना मरीजों का आंकड़ा 8.37 करोड़ के ज्यादा हो गया। 5 करोड़ 93 लाख से ज्यादा लोग ठीक हो चुके हैं। अब तक 18 लाख 24 हजार से ज्यादा लोग जान गंवा चुके हैं। ये आंकड़े https://ift.tt/2VnYLis के मुताबिक हैं। ब्रिटेन के वैक्सीन एक्सपर्ट ने कहा है कि यूके और साउथ अफ्रीका में पाए गए कोविड-19 के नए वैरिएंट को लेकर सतर्क रहने की जरूरत है। उनके मुताबिक, यह पूरी दुनिया के वैज्ञानिकों के लिए सतर्क रहने का मौका है।

वायरस पर नजर रखनी होगी
बिटेन के वैक्सीन एक्सपर्ट डॉक्टर पॉल आफिट ने CNN से बातचीत में कहा- यूके और साउथ अफ्रीका में मिले कोविड-19 के नए वैरिएंट ने हम सबकी चिंताएं बढ़ा दी हैं। खासतौर पर यह वैज्ञानिकों के लिए एक गंभीर चेतावनी है कि वे वायरस की सीक्वेंसिंग और इसके म्यूटेशन पर फोकस करें। डॉक्टर पॉल ब्रिटेन फूड एंड ड्रग एडवाइजरी कमेटी के भी मेंबर हैं। ब्रिटेन में फाइजर वैक्सीन को मंजूरी देने में उनका अहम योगदान है। वैक्सीन रिसर्च से पॉल पहल भी जुड़े रहे हैं।

पॉल ने कहा- यह याद रखिए कि कोरोना एक आरएनए वायरस है। इसका मतलब आसान भाषा में इस तरह समझा जा सकता है कि यह इन्फ्लूएंजा और मीजल्स यानी खसरे की वायरस की तरह फैलता है। इसके कई वैरिएंट्स हो सकते हैं। ऐसे में वैज्ञानिकों की यह जिम्मेदारी हो जाती है कि वे इसके वैरिएंट्स पर नजर बनाए रखें। कम से कम एक साल पर तो इस पर फोकस करना ही होगा।

मुश्किल में अमेरिकी अस्पताल
अमेरिका में गुरुवार को फिर अस्पतालों में भर्ती होने वाले मरीजों की संख्या बढ़ी। CNN ने अमेरिकी हेल्थ डिपार्टमेंट के हवाले से बताया कि एक ही दिन में 1 लाख 25 हजार 379 संक्रमित अस्पताल पहुंचे। इसके पहले भी कोविड ट्रैकिंग प्रोजेक्ट यानी सीटीपी ने बताया था कि पिछले हफ्ते बुधवार को एक लाख 25 हजार 335 मरीज अस्पतालों में भर्ती हुए। लगातार 13वें दिन देश के अस्पतालों में भर्ती होने वाले मरीजों की संख्या एक लाख से ज्यादा रही।

WHO ने दी राहतभरी खबर
कोरोना की मार झेल रही दुनिया के लिए वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गेनाइजेशन (WHO) ने नए साल पर बड़ा ऐलान किया है। 2021 के पहले ही दिन WHO ने फाइजर-बायोएनटेक की कोरोना वैक्सीन को इमरजेंसी यूज के लिए अप्रूव्ड कर दिया। कोरोना की यह पहली वैक्सीन है जिसे WHO की तरफ से अप्रूवल मिली है। अब दुनिया के सभी देश जल्द से जल्द इस वैक्सीन को इस्तेमाल में ला सकते हैं। WHO ने एक स्टेटमेंट जारी कर बताया कि फाइजर की इस वैक्सीन का इमरजेंसी यूज किया जा सकता है। टेस्टिंग में सभी मानकों पर ये खरी उतरी है।

कोरोना प्रभावित टॉप-10 देशों में हालात

देश

संक्रमित मौतें ठीक हुए
अमेरिका 20,445,654 354,215 12,125,806
भारत 10,286,329 149,018 9,881,786
ब्राजील 7,675,973 194,976 6,747,065
रूस 3,159,297 57,019 2,554,340
फ्रांस 2,620,425 64,632 194,221
यूके 2,488,780 73,512 N/A
तुर्की 2,208,652 20,881 2,100,650
इटली 2,107,166 74,159 1,463,111
स्पेन 1,921,115 50,689 N/A
जर्मनी 1,735,819 33,917 1,328,200

(आंकड़े https://ift.tt/2VnYLis के मुताबिक हैं)



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
लंदन के एक बाजार में एक कोरोना बिलबोर्ड के सामने से गुजरता व्यक्ति। ब्रिटेन में बुधवार को एक ही दिन में 50 हजार से ज्यादा संक्रमित मिले। करीब एक लाख लोगों को वैक्सिनेट किया जा चुका है। (फाइल)


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/2KUO6Jb

Comments

Popular posts from this blog

चीन ने कहा- हमारा समुद्री अधिकार नियम के मुताबिक, जवाब में ऑस्ट्रेलिया बोला- उम्मीद है आप 2016 का फैसला मानेंगे

अफगानिस्तान सीमा को खोलने की मांग कर रहे थे प्रदर्शनकारी, पुलिस ने फायरिंग की; 3 की मौत, 30 घायल

रूलिंग पार्टी की बैठक में नहीं पहुंचे ओली, भारत से बिगड़ते रिश्ते के बीच इस्तीफे से बचने की कोशिश