Posts

Showing posts from January, 2021

संसद में डेमोक्रेट्स ने ट्रम्प के खिलाफ महाभियोग प्रस्ताव पेश किया, उन्हें तुरंत पद से हटाने की मांग

Image
अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प की मुश्किलें बढ़ गई हैं। डेमोक्रेट्स ने उनके खिलाफ महाभियोग की प्रोसेस शुरू कर दी है। ट्रम्प अमेरिका के पहले राष्ट्रपति हैं जो पद पर रहते हुए लगातार दूसरी बार महाभियोग का सामना कर रहे हैं। हाउस ऑफ रिप्रेजेंटेटिव्ज (HOR) की अध्यक्ष नेंसी पेलोसी ने रविवार को ही ट्रम्प पर महाभियोग प्रस्ताव लाने की अनुमति दे दी थी। राष्ट्रपति ट्रम्प पर आरोप है कि 7 जनवरी को उन्होंने अपने समर्थकों को भड़काने का काम किया। इसी के चलते संसद (कैपिटल हिल) में हुई हिंसा में 5 लोगों की मौत हो गई। पेलोसी ने कहा, तुरंत हटाए जाएं ट्रम्प अखबार द हिल के मुताबिक, स्पीकर पेलोसी ने कहा कि हिंसा के मद्देनजर उपराष्ट्रपति माइक पेंस की जिम्मेदारी बनती है कि वे 25वें संशोधन के तहत ट्रम्प को उनके पद से हटाएं। डेमोक्रेट्स को लिखे पत्र में पेलोसी ने कहा कि अगर पेंस कोई कार्रवाई नहीं करते, तो उस स्थिति में महाभियोग पर वोटिंग होगी। ‘संविधान और लोकतंत्र को बचाना है’ पत्र में पेलोसी ने लिखा, ‘हम पर संविधान और लोकतंत्र को बचाने की जिम्मेदारी है, लिहाजा हमें तुरंत एक्शन लेना होगा। राष्ट्रपति से इन

ट्रम्प का ट्विटर अकाउंट सस्पेंड करना भारतीय मूल की विजया का फैसला, वही कंपनी की पॉलिसी तय करती हैं

Image
अमेरिका में पिछले बुधवार को इलेक्टोरल वोट की काउंटिंग के दौरान हुई हिंसा ने राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प की मुश्किलें खड़ी कर दीं। सोशल मीडिया कंपनी ट्विटर ने उनका अकाउंट ही सस्पेंड कर दिया। ट्रम्प अपनी बात कहने के लिए सबसे ज्यादा ट्विटर का ही इस्तेमाल करते थे। कंपनी के इस फैसले के पीछे 45 साल की भारतीय-अमेरिकन विजया गड्डे मजबूती से खड़ी थीं। विजया कंपनी की टॉप लॉयर हैं। उन्होंने ही ट्रम्प के ट्विटर अकाउंट परमानेंट सस्पेंड करने की पुष्टि की थी। ट्विटर ने शुक्रवार को पहली बार ट्रम्प का हैंडल सस्पेंड किया था। कंपनी का मानना है कि ट्रम्प ने अपने ट्वीट के जरिए US कैपिटल में दंगाइयों को उकसाया और उनका सपोर्ट किया। इसके बाद विजया सामने आईं। उन्होंने कहा कि भविष्य में ऐसी घटना दोबारा होने का खतरा है, इसलिए डोनाल्ड ट्रम्प के अकाउंट को स्थायी रूप से सस्पेंड कर दिया गया है। कंपनी के लीगल, पॉलिसी एंड ट्रस्ट और सेफ्टी इश्यू की हेड विजया ने सोशल मीडिया पर कंपनी की पॉलिसी के बारे में भी जानकारी दी। ट्विटर ने क्यों बंद किया ट्रम्प का अकाउंट, ट्रम्प आगे क्या करेंगे; इस मामले में क्यों आया मिशेल ओबामा

भारत ने ईस्टर्न लद्दाख में पकड़ा गया चीन का सैनिक लौटाया, तीन दिन पहले LAC पार करके आया था

Image
भारतीय सेना ने अपने इलाके में आए चीनी सैनिक को सोमवार को लौटा दिया। पीपुल्स लिबरेशन आर्मी के इस सैनिक को शुक्रवार को ईस्टर्न लद्दाख में पकड़ा गया था। उसे पैगॉन्ग त्सो के दक्षिणी तट पर लाइन ऑफ एक्चुअल कंट्रोल (LAC) पर भारतीय सीमा में घुसने के बाद गिरफ्तार कर लिया गया था। सूत्रों ने बताया कि सैनिक को चुशुल मोल्डो बॉर्डर पॉइंट पर सुबह 10 बजकर 10 मिनिट पर लौटा दिया गया। भारतीय और चीनी सेना के बीच इस इलाके में आठ महीने से ज्यादा समय से तनाव है। पैंगॉन्ग लेक एरिया में दोनों पक्षों के बीच झड़प के बाद पिछले साल मई में इसकी शुरुआत हुई थी। सेना की ओर से शनिवार को बताया गया था कि PLA का एक सैनिक LAC पार करके आ गया था। इसके बाद यहां तैनात भारतीय सैनिकों ने उसे हिरासत में ले लिया था। चीन ने कहा था- गलती से LAC के उस पार चला गया सैनिक चीन ने अपने सैनिक की फौरन रिहाई की मांग की थी। पीपुल्स लिबरेशन आर्मी के मुताबिक, यह सैनिक अंधेरे और इलाके की समझ न होने की वजह से भारतीय इलाके में पहुंच गया था। इसलिए उसे जल्द रिहा किया जाना चाहिए। चीनी सेना ने कहा था कि हमने इस बारे में भारतीय सेना को जानकारी देक

महिला क्रू मेंबर्स सैन फ्रांसिस्को से बेंगलुरु नॉनस्टॉप फ्लाइट लेकर आईं, नॉर्थ पोल के ऊपर से भरी उड़ान

Image
एयर इंडिया की एक फ्लाइट सोमवार सुबह सैन फ्रांसिस्को से बेंगलुरु पहुंची। यह कई मायनों में खास थी क्योंकि विमान ने एयरपोर्ट पर लैंड करते ही इतिहास रच दिया। इस फ्लाइट (AI-176) की सभी पायलट महिलाएं रहीं। उन्होंने नॉर्थ पोल के ऊपर से दुनिया के सबसे लंबे रूट से उड़ान भरी। एयर इंडिया के मुताबिक, यह दुनिया की सबसे लंबी कमर्शियल उड़ान है। इस दौरान विमान ने साढ़े 13 घंटे में 13 हजार 993 किलोमीटर का सफर तय किया। क्रू मेंबर की टीम की कमान कैप्टन जोया अग्रवाल ने संभाली। कॉकपिट में उनके अलावा कैप्टन पापागरी थनमई, कैप्टन आकांशा सोनवरे और कप्तान शिवानी मन्हास मौजूद रहीं। विमान के आते ही एयरलाइन कंपनी के स्टाफ ने तालियां बजाकर सभी का स्वागत किया। एविएशन मिनिस्टर बोले- इन लड़कियों ने इतिहास रच दिया यूनियन मिनिस्टर ऑफ सिविल एविएशन हरदीप सिंह पुरी ने सोशल मीडिया पर लिखा कि यह जश्न का मौका है। इन लड़कियों ने इतिहास रचा है। नॉर्थ पोल के ऊपर से उड़कर सैन फ्रांसिस्को से बेंगलुरु लैंड करने पर इस सभी को बहुत बधाई। वहीं, एयर इंडिया ने भी सोशल मीडिया पर इस टीम को बधाई दी। उसने लिखा कि एक शानदार सफर पूरा करने के

ट्रम्प के खिलाफ फिर महाभियोग प्रस्ताव लाया जाएगा, पद पर रहते दूसरी बार इसका सामना करने वाले पहले US प्रेसिडेंट

Image
अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प की मुश्किलें बढ़ने वाली हैं। 20 जनवरी को प्रेसिडेंट इलेक्ट यानी जो बाइडेन का शपथ ग्रहण कार्यक्रम है यानी ट्रम्प अब अपने पद पर सिर्फ 9 दिन और रहेंगे। इस बीच, हाउस ऑफ रिप्रेजेंटेटिव (HOR) की अध्यक्ष नेंसी पेलोसी ने रविवार को ट्रम्प पर महाभियोग प्रस्ताव लाने की अनुमति दे दी है। ट्रम्प पर आरोप है कि 7 जनवरी को उन्होंने अपने समर्थकों को भड़काने का काम किया। इसी के चलते संसद (कैपिटल हिल) में हुई हिंसा में 5 लोगों की मौत हो गई। अखबार द हिल के मुताबिक, पेलोसी ने कहा कि हिंसा के मद्देनजर उपराष्ट्रपति माइक पेंस की जिम्मेदारी बनती है कि वे 25वें संशोधन के तहत ट्रम्प को उनके पद से हटाएं। डेमोक्रेट्स को लिखे पत्र में पेलोसी ने कहा कि अगर पेंस को कार्रवाई नहीं करते, उस स्थिति में महाभियोग पर वोटिंग होगी। अमेरिकी इतिहास में ट्रम्प पहले ऐसे राष्ट्रपति होंगे, जिन पर कार्यकाल में दूसरी बार महाभियोग प्रस्ताव लाया जाएगा। ‘संविधान और लोकतंत्र को बचाना है’ पत्र में पेलोसी ने लिखा, ‘हमारे ऊपर संविधान और लोकतंत्र को बचाने की जिम्मेदारी है, लिहाजा हमें तुरंत एक्शन लेना होग

जापान में वायरस का नया स्ट्रेन मिला, ब्राजील से पहुंचा; यह ब्रिटेन और साउथ अफ्रीका में मिले स्ट्रेन से अलग

Image
अमेरिका और ब्रिटेन में वैक्सीनेशन शुरू हो चुका है, भारत में भी इसी हफ्ते वैक्सीनेशन शुरू होगा। वहीं, कोरोनावायरस का लगातार स्वरूप (म्यूटेशन) बदल रहा है। अब जापान में वायरस का नया स्वरूप सामने आया है। यह वहां ब्राजील से पहुंचा। यह स्ट्रेन ब्रिटेन और साउथ अफ्रीका में मिले स्ट्रेन से अलग है। जापान सरकार के मुताबिक, चार लोगों में नया स्ट्रेन मिला है, जिनमें 40 साल का एक पुरुष, 30 साल की महिला और 2 किशोर है। इससे पहले जापान में ब्रिटेन और साउथ अफ्रीकी स्ट्रेन के करीब 30 मामले सामने आ चुके हैं। इस बीच, कोरोनावायरस के दुनिया में 9 करोड़ 06 लाख 88 हजार 733 मामले आ चुके हैं। अब तक 19 लाख 43 हजार 90 लोगों की मौत हो चुकी है। अच्छी बात यह कि 6 करोड़ 48 लाख 11 हजार 380 लोग ठीक भी हो चुके हैं। कोरोना प्रभावित टॉप-10 देशों में हालात देश संक्रमित मौतें ठीक हुए अमेरिका 22,917,334 383,275 13,483,490 भारत 10,467,431 151,198 10,092,130 ब्राजील 8,105,790 203,140 7,167,651 रूस 3,401,954 61,837 2,778,889 UK 3,072,349 81,431 1,406,967 फ्रांस 2,783,256 67,750 20

दुनियाभर में व्हाइट​​​​​​​ नॉइज सुनने का ट्रेंड; सुकून देने वाला संगीत तनाव घटाता है, अच्छी नींद लाता है

Image
वॉशिंगटन में रहने वाली माया मोंटोया के लिए सॉन्ग ऑफ द ईयर रहा व्हाइट नॉइज। खासकर डिजिटल म्यूजिक प्लेटफॉर्म स्पॉटिफाई का सेलिस्टियल व्हाइट नॉइज। ये तीन घंटे का एक शांत म्यूजिक है। 27 वर्षीय मोंटोया कहती हैं कि हाल ही में जब स्पॉटिफाई ने अपने साल का रैप्ड चार्ट जारी किया तो वे चौंक गई। सेलिस्टियल व्हाइट नॉइज उनके चार्ट में शीर्ष पर था। बाद में ऐसे सैकड़ों लोगों ने बताया कि उनके टॉप चार्ट में इस बार व्हाइट नॉइज से जुड़ा म्यूजिक टॉप पर रहा। व्हाइट नॉइज ऐसी शांत ध्वनियां होती हैं जो सोने में मदद करती हैं। स्पॉटिफाई पर इस साल बैकग्राउंड साउंड, शांत म्यूजिक की मांग बढ़ी है। पिछले साल मार्च में जब कोरोना के कारण लोगों की चिंता बढ़ी तो यू-ट्यूब पर नींद से जुड़े साउंड, प्रकृति से जुड़ी ध्वनियां और सोने के समय आदि से जुड़े शब्दों से सबसे अधिक सर्च किए गए। इनकी संख्या ऑल टाइम हाई रही। वहीं दूसरी तरफ चीन में 20 करोड़ लोग रात में संगीत सुनते हैं। एंडेल एप के डाउनलोड में बीते वर्ष अगस्त तक 80% की बढ़ोतरी हो गई। यह एप आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस की मदद से ध्वनि बनाता है। ऐसे ही मशहूर एप काम (Calm) की डाउनलोड संख

अमेजन, एपल और गूगल ने ट्रम्प समर्थकों का पसंदीदा ऐप हटाया; हिंसा को बढ़ावा देने का आरोप

Image
पिछले कुछ माह में सोशल नेटवर्क पार्लर अमेरिका में तेजी से बढ़ने वाला ऐप रहा है। फेसबुक और ट्विटर ने गलत जानकारी देने और हिंसा भड़काने वाले पोस्ट हटाना शुरू किए तो राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के लाखों समर्थक इस मुफ्त ऐप पर चले गए। लेकिन, शनिवार की रात पार्लर को अचानक अस्तित्व बचाने के लिए संघर्ष करने की नौबत आ गई। अमेजन, एपल और गूगल ने ऐप को अपने स्टोर्स से हटा दिया है। सबसे पहले एपल ने आईफोन और फिर गूगल ने अपने ऐप स्टोर से पार्लर को हटाया। इसके बाद अमेजन ने पार्लर को सूचना दी कि वह उसे अपनी वेब होस्टिंग सर्विस से अलग कर रही है। ऐप पर नियम तोड़ने का आरोप लगाया गया है। अमेजन के फैसले के कारण पार्लर का समूचा प्लेटफार्म जल्द ही ऑफलाइन हो जाएगा। उसे नई होस्टिंग सेवा की तलाश करनी पड़ेगी। पार्लर के प्रमुख अधिकारी जॉन मेट्ज ने एक मैसेज में कहा कि बड़ी टेक कंपनियां प्रतिस्पर्धा खत्म करना चाहती हैं। एक दिन पहले लग रहा था कि टेक्नोलॉजी कंपनियों के खिलाफ ट्रम्प समर्थकों और कट्टरपंथियों के बढ़ते गुस्से से पार्लर को फायदा होगा। ट्रम्प पर ट्विटर की पाबंदी के बाद वह इन लोगों की स्वाभाविक पसंद हो सकता था।

बाइडेन के शपथ ग्रहण से पहले हिंसा की साजिश, 6 जनवरी को ट्रक से 11 बम जब्त किए गए थे

Image
अमेरिका में प्रेसिडेंट इलेक्ट जो बाइडेन के 20 जनवरी को होने वाले शपथ ग्रहण समारोह से पहले हिंसा हो सकती है। गुरुवार को संसद में राष्ट्रपति ट्रम्प के समर्थकों ने घुसकर तोड़फोड़ की थी। इस दौरान संसद के अंदर और बाहर हुई हिंसा में एक पुलिस अफसर समेत पांच लोगों की मौत हो गई थी। अब इस मामले में नया खुलासा हुआ है। CNN की एक रिपोर्ट के मुताबिक, गुरुवार को संसद भवन यानी कैपिटल हिल से कुछ दूरी (दो ब्लॉक छोड़कर) एक ट्रक खड़ा था। इसकी तलाशी के दौरान 11 देसी बम और कुछ हथियार बरामद किए गए थे। अल्बामा का रहने वाला है आरोपी CNN की रिपोर्ट के मुताबिक, यह एक छोटा पिकअप ट्रक था। इसका मालिक अल्बामा का रहने वाला है। उसे गिरफ्तार कर लिया गया है। ट्रक से 11 होममेड यानी देसी बम, एक असॉल्ट रायफल और एक हैंडगन जब्त की गई। ऐसे में पुलिस की भूमिका पर सवाल सबसे ज्यादा उठ रहे हैं। रिपोर्ट के मुताबिक, हाउस ऑफ रिप्रेजेंटेटिव्स की स्पीकर नैंसी पेलोसी इस व्यक्ति के निशाने पर थीं। कहा जा रहा है कि यह हथियार ट्रम्प समर्थक दंगाइयों तक पहुंचाए जाने थे और ट्रक को इसीलिए कैपिटल हिल के पास पार्क किया गया था। इस मामले में जा

बाइडेन के शपथ ग्रहण में नहीं जाएंगे अमेरिकी राष्ट्रपति, वाइस प्रेसिडेंट माइक पेंस करेंगे शिरकत

Image
अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प प्रेसिडेंट इलेक्ट जो बाइडेन की इनॉगरेशन डे सेरेमनी में हिस्सा नहीं लेंगे। उनकी जगह उप राष्ट्रपति माइक पेंस इस कार्यक्रम में शिरकत करेंगे। अमेरिकी मीडिया रिपोर्ट्स के हवाले से न्यूज एजेंसी ने यह जानकारी दी है। बाइडेन और कमला हैरिस का शपथ ग्रहण समारोह 20 जनवरी को होगा। अमेरिका में इसे इनॉगरेशन डे सेरेमनी कहा जाता है। ट्रम्प और पेंस के रिश्तों में खटास दो दिन पहले ट्विटर ने डोनाल्ड ट्रम्प का पर्सनल अकाउंट बंद कर दिया था। इसके पहले ही ट्रम्प ने साफ कर दिया था कि वे बाइडेन के शपथ ग्रहण समारोह में शिरकत नहीं करेंगे। हालांकि, वाइस प्रेसिडेंट माइक पेंस ने ट्रम्प से अलग राय रखी। पेंस ने यह भी साफ कर दिया था कि 6 जनवरी को इलेक्टोरल कॉलेज की वोटों की गिनती के दौरान जो हंगामा हुआ, वे उसकी निंदा करते हैं। पेंस ने इसे लोकतंत्र पर हमला करार दिया, इसे अमेरिकी इतिहास का काला दिन बताया। बाद में ट्रम्प ने पेंस के रवैये को पक्षपाती बताया था। बाइडेन खुश बाइडेन ने शुक्रवार को मीडिया से बातचीत में साफ कर दिया था कि वे ट्रम्प के न आने से खुश हैं और पेंस की मौजूदगी का स्व

एयरक्राफ्ट के दोनों ब्लैक बॉक्स की लोकेशन मिली, इन्हें निकालने के लिए नेवी टीम जुटी

Image
इंडोनेशिया की श्रीविजया एयरलाइंस के शनिवार को क्रैश हुए विमान के दोनों ब्लैक बॉक्स की लोकेशन ट्रैस कर ली गई। इन्हें निकालने के लिए इंडोनेशियाई नेवी की स्पेशल टीम को तैनात किया गया है। हालांकि, रविवार रात तक दोनों ब्लैक बॉक्स रिकवर नहीं किए जा सके थे। इस क्रैश में सभी 62 पैसेंजर्स की मौत हो गई थी। मलबा समुद्र में मिला। ब्लैक बॉक्स निकालना आसान नहीं ‘जकार्ता पोस्ट’ के मुताबिक, क्रैश हुए एयरक्राफ्ट के फ्लाइट डेटा रिकॉर्डर और वॉइस रिकॉर्डर को रविवार शाम सिर्फ लोकेट किया जा सका है। इसे नेवी के एक स्पेशल शिप की मदद से लोकेट किया गया। हालांकि, इनको निकालने में दिक्कत आ रही है क्योंकि, यह समुद्री चट्टानों के करीब बताए गए हैं और इनके सिग्नल भी कमजोर होते जा रहे हैं। जल्द कामयाबी का भरोसा इंडोनेशिया के ट्रांसपोर्ट सेफ्टी सेक्रेटरी सोरेजांतो ताहंतो ने कहा- हमारी नेवी टीम ने ब्लैक बॉक्स का पता लगा लिया है। इन्हें निकालना आसान तो नहीं लेकिन, हम जल्द कामयाबी का भरोसा है। इंडोनेशियाई सरकार ने नेवी के हेलिकॉप्टर्स भी सर्च ऑपरेशन में लगाए हैं। रेस्क्यू टीम को रविवार तक सिर्फ पांच डेड बॉडीज मिलीं।

चीन ने कहा- हमारा सैनिक ने गलती से LAC क्रॉस की, भारत उसे जल्द रिहा करे

Image
चीन ने भारतीय सेना की हिरासत में मौजूद अपने सैनिक की फौरन रिहाई की मांग की है। चीन की सेना यानी पीपुल्स लिबरेशन आर्मी (PLA) के मुताबिक, यह सैनिक अंधेरे और इलाके की समझ न होने की वजह से भारतीय क्षेत्र में पहुंच गया था। इसलिए उसे जल्द रिहा किया जाना चाहिए। अक्टूबर में एक चीनी सैनिक भारतीय सीमा में घुस गया था। दो दिन बाद उसे चीनी सेना के अफसरों को सौंप दिया गया था। रास्ता भटक गया था सैनिक लद्दाख में एलएसी पर पिछले साल जून से दोनों देशों की भारी सैन्य तैनाती है। भारत की हिरासत में मौजूद चीनी सैनिक पर वहां की सेना ने बयान जारी किया। कहा- अंधेरे और जटिल भौगोलिक स्थिति की वजह से शुक्रवार सुबह हमारा एक सैनिक रास्ता भटक गया था। हमने इस बारे में भारतीय सेना को जानकारी दे दी थी। उनसे सैनिक की खोज में मदद देने की अपील की थी। बयान में आगे कहा गया- भारतीय सेना ने दो घंटे बाद बताया कि हमारा सैनिक उनके पास है और वे आला अफसरों से बातचीत के बाद उसे रिहा कर देंगे। समझौते का पालन किया जाए चीनी सेना ने कहा- दोनों देशों के बीच इस तरह के मामलों से निपटने के लिए कुछ समझौते हैं। इसलिए बिना वक्त गंवाए हमा

तेज बारिश के बाद जावा में दो बार लैंडस्लाइड; रेस्क्यू करने पहुंची टीम भी मिट्टी में दबी, 11 की मौत

Image
लगातार दो दिन से हो रहे हादसों ने इंडोनेशिया को दहला दिया है। शनिवार को यहां 62 लोगों को ले जा रहा एक विमान समुद्र में क्रैश हो गया था। शनिवार को ही जावा के सुमेडांग जिले में लैंड स्लाइड हो गई। रेस्क्यू टीम यहां फंसे लोगों को निकाल ही रही थी कि रविवार को दोबारा जमीन धंस गई। इससे बचाव दल के कर्मचारी भी दब गए। अधिकारियों ने बताया कि भारी बारिश की वजह से ये हादसे हुए। घायलों को लेने आई एक एंबुलेंस भी मिट्टी के ढेर के नीचे दब गई थी। बाद में क्रेन की मदद से उसे निकाला गया। नेशनल डिजास्टर मिटिगेशन एजेंसी के स्पोक्समैन रादित्य जाति ने बताया कि अब तक 11 लोगों की मौत हो चुकी है। 18 घायल हैं। उन्होंने कहा कि शनिवार रात को बारिश रुक गई थी। लैंड स्लाइड से एक पुल और सड़क बंद हो गई थी। रेस्क्यू टीम को मलबा हटाने के लिए मशीनें लाने में मुश्किल हो गई। बारिश ने बढ़ाई मुश्किल हाल के दिनों में मौसमी बारिश और हाई टाइड के कारण इंडोनेशिया के कई इलाकों में लैंड स्लाइड और बाढ़ की घटनाएं हो रही हैं। यहां के 17,000 द्वीपों में लाखों लोग पहाड़ी इलाकों या नदियों के करीब उपजाऊ मैदानों के पास रहते हैं। एक दिन

प्लेन क्रैश वाली जगह से मलबा निकाल रही रेस्क्यू टीम को बॉडी पार्ट्स मिले; बीते दिन बोइंग 737 प्लेन क्रैश हो गया था

Image
इंडोनेशिया में क्रैश हुए प्लेन का मलबा ढूंढने के लिए रेस्क्यू ऑपरेशन चलाया जा रहा है। जावा सागर से रेस्क्यू टीम ने रविवार को बॉडी पार्ट्स, कपड़े और मलबा बरामद किया। प्लेन बोइंग 737-500 शनिवार को जकार्ता के नजदीक समुद्र में क्रैश हो गया था। प्लेन में 62 लोग सवार थे। क्रैश की वजह का अब तक पता नहीं श्रीविजया एयर का फ्लाइट का नंबर SJ 182 था। बोइंग 737-500 क्लास के इस प्लेन ने जकार्ता के सुकर्णो-हट्टा हवाई अड्डे से उड़ान भरी थी। उड़ान भरने के चार मिनट बाद ही इसका एयर ट्रैफिक कंट्रोल (ATC) से संपर्क टूट गया था। उस वक्त विमान 10 हजार फीट की ऊंचाई पर था। वॉर शिप और हेलीकॉप्टर रेस्क्यू में लगे पुलिस के मुताबिक, रविवार सुबह हमें दो बैग मिले। एक बैग में यात्रियों के सामान और दूसरे में बॉडी पार्ट्स थे। रेस्क्यू के लिए वॉर शिप, हेलीकॉप्टर और डाइवर्स ने मोर्चा संभाल रखा है। किसी के भी बचने की उम्मीदें न के बराबर हैं। एयरपोर्ट पर अफरा-तफरी सूचना मिलते ही जकार्ता और पॉन्टिआनाक एयरपोर्ट पर पैसेंजर्स के परिजन पहुंचने लगे थे। दोनों एयरपोर्ट पर अफरा-तफरी मची रही। परिजन रोते-बिलखते दिखे। एक परिजन ने

मरीजों की संख्या 9 करोड़ के पार, अमेरिका इकलौता देश जहां रोज दो लाख से ज्यादा नए केस मिल रहे

Image
दुनिया में कोरोना के मरीजों की संख्या शनिवार को नौ करोड़ पार कर गई। बीते 25 दिसंबर को यह आंकड़ा आठ करोड़ था। यानी 15 दिनों में दुनिया में एक करोड़ मरीज बढ़ गए। अब इनकी कुल संख्या नौ करोड़ 75 हजार 385 है। 19 लाख 34 हजार 778 लोग जान गंवा चुके हैं। वहीं, 6 करोड़ 44 लाख 62 हजार 529 लोग वायरस को हरा चुके हैं। अमेरिका लगातार सबसे प्रभावित देश बना हुआ है। दुनिया में मरीजों की संख्या ने एक करोड़ का आंकड़ा 25 जून 2020 को छुआ था। इसे नौ करोड़ तक पहुंचने में महज साढ़े छह महीने लगे। सबसे कम समय सात से आठ करोड़ केस होने में लगा था। पिछले साल दिसंबर में महज छह दिन में एक करोड़ मरीज बढ़े थे। ये आंकड़े https://ift.tt/2VnYLis के मुताबिक हैं। अमेरिका, ब्राजील और ब्रिटेन में हालात काबू से बाहर अमेरिका में मास वैक्सीनेशन शुरू हो चुका है। इसके बावजूद यहां कोरोना काबू में नहीं है। अमेरिका में शुक्रवार को दो लाख 49 हजार 519 मरीज मिले। यह इकलौता देश है जहां नए मरीजों की तादाद लगातार दो लाख से ज्यादा है। इसके बाद ब्राजील और ब्रिटेन आते हैं। यहां बीते 24 घंटे में लगभग 60-60 हजार केस सामने आए हैं। कुल केस के मामले में

इस्लामाबाद-कराची समेत 8 शहरों में बत्ती गुल, लोग बोले- हमें वजह नहीं पता, लेकिन पता लग जाएगा

Image
पाकिस्तान में शनिवार देर रात ब्लैकआउट (बिजली गुल) हो गया। इससे कराची, लाहौर, इस्लामाबाद, मुल्तान, कसूर, रावलपिंडी और मंडी अंधेरे में डूब गए। इसके बाद सोशल मीडिया पर #Blackout और #Load Shading ट्रेंड करने लगा। इस्लामाबाद के डिप्टी कमिश्नर हमजा सफकत ने ट्वीट पर जानकारी दी। उन्होंने कहा, बिजली कंपनी (NTDC) कंपनी का सिस्टम ट्रिप होने के कारण ब्लैकआउट हुआ है। ट्रिप एक तरह से सर्किट ब्रेक जैसा है। इसमें ओवरहीटिंग से बचाने के लिए सिस्टम अपने आप बंद हो जाता है। ‘ट्रिप होने पर अचानक वोल्टेज गिरता है’ ‘डॉन’ के मुताबिक पाक पीएम इमरान खान के विशेष सहायक शहबाज गिल ने कहा कि मैं कोई आधिकारिक बयान नहीं, पर मत सामने रख रहा हूं। जब बड़े प्लांट में ट्रिप होता है तो अचानक से वोल्टेज कम होता है। संयंत्रों में ऐसा सिस्टम होता है कि वह डैमेज रोकने के लिए अपने आप सक्रिय हो जाता है। गिल ने ये भी कहा कि ऊर्जा मंत्री उमर अयूब और उनकी पूरी टीम ब्लैकआउट से बाहर निकालने के लिए काम कर रही है। सोशल मीडिया पर लोग नाराज एक शख्स ने सोशल मीडिया पर लिखा, ‘पूरे पाकिस्तान में ब्लैकआउट है। कहीं बिजली नहीं है। हमें कार

पाकिस्तान में हिंदू टीचर का धर्मांतरण करने के बाद नाम रखा आयशा

Image
पाकिस्तान में हिंदू, सिख और ईसाई समुदाय की लड़कियों का जबरन धर्मांतरण जारी है। सिंध प्रांत के बलूचिस्तान में हिंदू महिला टीचर का जबरन धर्मांतरण करवा दिया गया। उसका नाम बदलकर एकता से आयशा रख दिया गया। इस घटना को लेकर स्थानीय प्रशासन ने कोई कार्रवाई नहीं की। वहीं, इमरान सरकार ने भी चुप्पी साध रखी है। हालांकि, अल्पसंख्यकों के लिए काम करने वाली संस्था वॉइस ऑफ माइनॉरिटी ने इस घटना को लेकर चिंता जताई है। संस्था ने कहा- ‘पाकिस्तान में जबरन धर्म परिवर्तन करवाना बहुत सामान्य हो चुका है। एक दिन ऐसा भी आएगा जब यहां के झंडे में से सफेद रंग बिल्कुल गायब हो जाएगा।’ पाकिस्तान के झंडे में सफेद रंग अल्पसंख्यक को दर्शाता है। रिपोर्ट के मुताबिक, मियां मिट्ठू नाम के शख्स ने सिंध प्रांत में कई अल्पसंख्यक लड़कियों का धर्मांतरण करवाया है। उसने पिछले दिनों कविता कुमारी को जबरन इस्लाम कबूल करवाया। 2019 में मिट्ठू ने महक केसवानी, दो नाबालिग बहनों रवीना और रीना का अपहरण करवा कर उन्हें इस्लाम कबूल करवाया था। मियां के खिलाफ जबरन धर्म परिवर्तन करवाने के अब तक 117 मामले दर्ज हो चुके हैं। लेकिन कार्रवाई किसी में नहीं

900 करोड़ रु. की लागत से 16.7 एकड़ में बन रहा मंदिर, 2023 तक बनकर तैयार होने की उम्मीद

Image
15 लाख की आबादी वाला देश अबू धाबी UAE में रह रहे करीब 33 लाख भारतीयों के लिए आस्था का केंद्र बन जाएगा। अबू धाबी में पहला हिंदू मंदिर बन रहा है। जिसका काम तेजी से शुरू हो गया है। 16.7 एकड़ में बन रहे मंदिर परिसर में 45 करोड़ दिरहम (करीब 900 करोड़ रुपए) खर्च होंगे। अनुमान है कि 2023 तक मंदिर निर्माण पूरा हो जाएगा। इस मंदिर में 2000 से ज्यादा कलाकृतियां लगाई जाएंगी। इस मंदिर परिसर में प्रार्थना हॉल, लाइब्रेरी, खेल का मैदान, बगीचा, पानी की सुविधाएं, फूड कोर्ट, दुकानें और पार्किंग भी होगी। इसके लिए 3000 से ज्यादा मजदूर और शिल्पकार काम कर रहे हैं। मंदिर में करीब 5,000 टन इटैलियन कैरारा मार्बल का इस्तेमाल होगा। मंदिर में लगने वाले पत्थर और कलाकृतियों की नक्काशी राजस्थान और गुजरात में हो रही है। मंदिर का बाहरी हिस्सा करीब 12 हजार 250 टन गुलाबी बलुआ पत्थर से बनेगा। माना जाता है कि इन पत्थरों में भीषण गर्मी झेलने की क्षमता होती है और 50 डिग्री सेल्सियस तापमान में भी गर्म नहीं होता है। हाथ से तराशी जाने वाली मूर्तियां भारत की संस्कृति और इतिहास को दर्शाती हैं। इनमें अरबी प्रतीकों को भी शामिल

मॉल में आप एआई से लैस कैमरों की नजर में; चोरी के आदी हैं तो ये घुसते ही अलर्ट करते हैं- ‘वो आ गया’

Image
यदि आपको शॉपिंग मॉल या सुपर बाजार की रैक से चाेरी-छुपे सामान उठाने की आदत है तो संभल जाएं। ब्रिटेन के सुपर बाजार और शॉपिंग मॉल में अब आर्टिफिशयल इंटेलीजेंस (एआई) से लैस फेशियल रिकग्निशन तकनीक वाले कैमरों से निगाह रखकर ऐसे लोगों की पहचान की जा रही है। दरअसल, ब्रिटेन में फेशियल रिकग्निशन तकनीक से जुड़े स्टार्टअप फेसवॉच ने ऐसे लोगों पर नजर रखकर पता लगाया कि लोग सबसे ज्यादा नैपीज, रेजर ब्लेड, डियोडोरेंट जैसी चीजें अपनी जेबों में रख लेते हैं। कंपनी ने अब ऐसी प्रवृत्ति वाले लोगों की ‘वॉचलिस्ट’ तैयार की है और उसे स्टोर व शॉपिंग मॉल को उपलब्ध करवा दिया है। खास बात यह है कि संबंधित व्यक्ति के शॉपिंग मॉल या सुपर बाजार में प्रवेश करते ही या सीसीटीवी कैमरे में दिखते ही एआई आधारित फेशियल रिकग्निशन तकनीक स्टोर कर्मचारियों को मोबाइल एप पर अलर्ट भेज देती है कि पिछले दिनों सामान उठाने वाला व्यक्ति आ गया है। इस तकनीक से स्टाफ को ऐसे लोगों से निपटने का पर्याप्त समय मिलने लगा है। वे आसानी से तय कर लेते हैं कि क्या कदम उठाने हैं। जैसे पहले सम्मानपूर्वक समझाया जाता है कि वे स्टोर से बाहर चले जाएं। न मानन

वैक्सीन जल्दी पाने के लिए नेतन्याहू ने 50% अधिक कीमत दी, फाइजर सीईओ को 17 बार फोन किया

Image
कोरोना टीकाकरण की दौड़ में इजरायल इस समय सबसे आगे चल रहा है। इजरायल ने 20 दिन में अपनी आबादी के पांचवें हिस्से को टीका लगा दिया है। वहां लगभग 18 लाख लोगों को वैक्सीन लग चुकी है। वैक्सीन की ज्यादा डोज और जल्दी सप्लाई के लिए इजरायल ने ब्रिटेन की तुलना में 50 फीसदी ज्यादा कीमत चुकाई है। इजरायल के प्रधानमंत्री बेन्जामिन नेतन्याहू ने वैक्सीन बनाने वाली फाइजर कंपनी के सीईओ अल्बर्ट बोर्ला को कुछ ही दिन के अंदर 17 बार फोन किया। ताकि वैक्सीन की ज्यादा डोज उन्हें जल्द से जल्द मिल सके। इजरायल के एक विपक्षी नेता ने नाम न बताने की शर्त पर यह जानकारी दी। उन्होंने कहा कि नेतन्याहू ने अपनी गिरती लोकप्रियता और राजनीतिक स्थिति मजबूत करने के लिए वैक्सीन के लिए ज्यादा कीमत दी। फाइजर की जिस वैक्सीन के लिए ब्रिटेन ने 30 यूरो (करीब 2700 रु.) प्रति डोज दिए उसी के लिए इजरायल ने 45 यूरो (करीब 4000 रु.) चुकाए हैं। यानी वैक्सीन जल्दी पाने के लिए 50 फीसदी ज्यादा कीमत। फाइजर प्रवक्ता ने कहा- ‘वैक्सीन की कीमत, मात्रा और पहले किए गए वादे पर आधारित है।’ जापान: अस्पताल में भर्ती होने से मना करने पर पेनाल्टी कोरोना

बालाकोट एयरस्ट्राइक में 300 आतंकी मारे गए थे, पाकिस्तान के पूर्व राजनयिक ने टीवी पर LIVE डिबेट में कबूला

Image
पाकिस्तान ने आखिर मान लिया कि 26 फरवरी 2019 को बालाकोट एयरस्ट्राइक में 300 आतंकी मारे गए थे। पाकिस्तान के पूर्व राजनयिक आगा हिलाली ने एक LIVE टीवी डिबेट में यह बात कबूल कर ली। आगा हिलाली टीवी चैनलों पर होने वाली बहस में पाकिस्तानी सेना का पक्ष रखते हैं। उनकी ओर से यह कबूल करना पाकिस्तान की बड़ी नाकामी मानी जा रही है। ऐसा इसलिए भी, क्योंकि पाकिस्तान अब तक एयरस्ट्राइक में किसी की भी मौत होने से साफ इनकार कर रहा था। 'इंटरनेशनल बॉर्डर पार कर भारत ने युद्ध जैसा काम किया' आगा हिलाली पाकिस्तानी उर्दू चैनल पर डिबेट के दौरान बोल रहे थे। उन्होंने कहा, 'भारत ने इंटरनेशनल बॉर्डर पार कर युद्ध जैसा काम किया। बालाकोट एयरस्ट्राइक में कम से कम 300 लोग मारे गए। हमारा लक्ष्य उनसे अलग था। हमने उनके बड़े अधिकारियों को निशाना बनाया। हमारा कदम पूरी तरह से लीगल था, क्योंकि वे सेना के आदमी थे। हमने उस समय कहा था कि इस कार्रवाई में कोई हताहत नहीं हुआ। अब हमने उनसे कहा है कि वे जो भी करेंगे हम सिर्फ उसका जवाब देंगे।' पुलवामा हमले के बाद भारत ने एयरस्ट्राइक की थी 14 फरवरी 2019 को पुलवामा में